Breaking News
Home / भूगोल / चन्द्रग्रहण

चन्द्रग्रहण

चन्द्रग्रहण

जब पृथ्वी की छाया चन्द्रमा पर पड़ती है , तो उसे चन्द्रग्रहण ( Lunar Eclipse ) कहते हैं । चन्द्र ग्रहण आंशिक या पूर्ण हो सकता है । पूर्ण चन्द्र ग्रहण तब होता है , जब चन्द्रमा पूरी तरह से पृथ्वी की छाया से ढक जाता है , जबकि आंशिक चन्द्र ग्रहण ( Partial Lunar Eclipse ) की स्थिति में चन्द्रमा का एक भाग ही पृथ्वी की छाया के अधीन आता है । पूर्ण चन्द्रग्रहण लगभग 1 घण्टे 40 मिनट तक का होता है ।

यह स्थिति तब बनती है , जब सूर्य और चन्द्रमा के बीच पृथ्वी होती है और तीनों एक रेखा में होते हैं । इस स्थिति को सिजगी कहते हैं । यह स्थिति केवल पूर्णिमा को ही बनती है । अतः चन्द्र ग्रहण पूर्णिमा को ही होता है , किन्तु सभी पूर्णिमा को नहीं , इसका कारण पृथ्वी के सापेक्ष चन्द्रमा का झुकाव है । जिन क्षेत्रों में पूर्ण चन्द्र ग्रहण दिखाई देता है , वहाँ की स्थिति को प्रच्छाया ( Umbra ) कहते हैं और जिन क्षेत्रों में अर्द्ध – चन्द्रग्रहण दिखाई देता है , उन्हें उपच्छाया ( Penumbra ) कहते हैं ।

चन्द्रग्रहण

 

Check Also

पृथ्वी की उत्पत्ति

पृथ्वी की उत्पत्ति पृथ्वी की उत्पत्ति के सम्बन्ध में सम्भवतः सर्वप्रथम तर्कपूर्ण परिकल्पना का प्रतिपादन …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *