हिंदी व्याकरण, उपसर्ग

उपसर्ग(upsarg): परिभाषा, भेद और प्रकार | हिंदी व्याकरण | hindi grammar 

वे शब्दांश जो किसी मूल शब्द के पूर्व में लगकर नए शब्द का निर्माण करते है यानि अर्थ का बोध कराते है उन्हें उपसर्ग कहते है ये शब्दांश होने के करण वैसे इनका अपना स्वतंत्र रूप से कोई महत्व नहीं होता शब्द के पहले जुड़ कर ये उस शब्द विशेष के अर्थ में परिवर्तन कर देते है|

उपसर्ग 3 तरह के होते है 

  1. संस्कृत के उपसर्ग
  2. हिंदी के उपसर्ग
  3. विदेशी उपसर्ग
उपसर्ग
उपसर्ग

संस्कृत के उपसर्ग 

संस्कृत के उपसर्ग 22 होते है ये हिंदी में भी प्रयुक्त होते है इसलिए इन्हे संस्कृत के उपसर्ग कहते है 

उपसर्गअर्थउपसर्गयुक्त शब्द/उदाहरण
अतिअधिक/परअतिशय, अतिक्रमण, अतिवृष्टि, अतिशीघ्र, अत्यन्त, अत्यधिक, अत्याचार, अतीन्द्रिय, अत्युक्ति, अत्युत्तम, अत्यावश्यक, अतीव
अधिप्रधान/श्रेष्ठअधिकरण, अधिनियम, अधिनायक, अधिकार, अधिमास, अधिपति, अधिकृत, अध्यक्ष, अधीक्षण, अध्यादेश,अधीन, अध्ययन, अधीक्षक, अध्यात्म, अध्यापक
अनुपीछे/समानअनुकरण, अनुकूल, अनुचर, अनुज, अनुशासन, अनुरूप, अनुराग, अनुक्रम, अनुनाद, अनुभव, अनुशंसा,अन्वयः, अन्वीक्षण, अन्वेषण, अनुच्छेद, अनूदित
अपबुरा/विपरितअपकार, अपमान, अपयश, अपशब्द, अपकीर्ति,अपराध, अपव्यय, अपहरण, अपकर्ष, अपशकुन, अपेक्षा
अभिपास/सामनेअभिनव, अभिनय, अभिवादन, अभिमान, अभिभाषण, अभियोग, अभिभूत, अभिभावक, अभ्युदय, अभिषेक, अभ्यर्थी, अभीष्ट, अभ्यन्तर, अभीप्सा, अभ्यास
अवबुरा/हीनअवगुण, अवनति, अवधारण, अवज्ञा, अवगति, अवतार, अवसर, अवकाश, अवलोकन, अवशेष, अवतरण
तक/सेआजन्म, आहार, आयात, आप, आजीवन, आगार, आगम, आमोद, आशंका, आरक्षण, आमरण, आगमन, आकर्षण, आबालवृद्ध,आघात
उत्ऊपर/श्रेष्ठउत्पन्न, उत्पत्ति, उत्पीड़न, उत्कंठा, उत्कर्ष, उत्तम, उत्कृष्ट, उदय, उन्नत,उल्लेख, उच्छ्वास, उज्ज्वल, उच्चारण, उच्छृंखल, उद्गम
उपपास/सहायकउपकार, उपवन, उपनाम, उपचार, उपहार, उपसर्ग, उपमन्त्री, उपयोग, उपभोग से उपभेद, उपयुक्त, उपभोग, उपेक्षा, उपाधि, उपाध्यक्ष
दुर्कठिन/बुरा/विपरीतदुराशा, दुराग्रह, दुराचार, दुरवस्था, दुरूपयोग, दुरभिसंधि, दुर्गुण, दुर्दशा, दुर्घटना, दुर्भावना, दुरुह
दुस्बुरा/विपरीत/कठिनदुश्चिन्त, दुश्शासन, दुष्कर, दुष्कर्म, दुस्साहस, दुस्साध्य
निबिना/विशेषनिडर, निगम, निवास, निदान, निहत्थस निबन्ध, निदेशक, निकल, निवारण, न्यून, न्याय, न्यास, निषेध, निषिद्ध
निर्बिना/बाहरनिरपराध, निराकार, निराहार, निरक्षर, निरादर, निरहंकार, निरामिष, निर्जर, निर्धन, निर्यात, निर्दोष, निरवलम्ब, नीरोग, नीरस, निरीह, निरीक्षण
निस्बिना/बाहरनिश्चय, निश्छल, निष्काम, निष्कर्म, निष्पाप, निष्फल, निस्तेज, निस्संदेह
प्रआगे/अधिकप्रदान, प्रबल, प्रयोग, प्रचार, प्रसार, प्रहार, प्रयत्न, प्रभंजन, प्रपौत्र, प्रारम्भ, प्रोज्जवल, प्रेत, प्राचार्य,प्रायोजक, प्रार्थी
पराविपरीत/पीछे/अधिकपराजय,पराभव, पराक्रम, परामर्श, परावर्तन, पराकाष्ठा
परिचारों ओर/पासपरिक्रमा, परिवार, परिपूर्ण, परिमार्जित, परिहार, परिक्रमण, परिभ्रमण, परिधान, परिहास, परिश्रम, परिवर्तन, परीक्षा, पर्याप्त, पर्यटन, परिणाम, परिमाण, पर्यावरण, परिच्छेद, पर्यन्त
प्रतिप्रत्येक/विपरीतप्रतिदिन, प्रत्येक,प्रतिकूल, प्रतिहिंसा, प्रतिरूप, प्रतिध्वनि, प्रतिनिधि, प्रतीक्षा, प्रत्युत्तर, प्रत्याशा, प्रतीति
विविशेष/भिन्नविजय, विज्ञान, विदेश, वियोग, विनाश, विपक्ष, विलय, विहार, विख्यात, विधान, व्यवहार, व्यर्थ, व्यायाम, व्यंजन, व्याधि, व्यसन, व्यूह
सुअच्छा/सरलसुगन्ध, सुगति, सुबोध, सुयशा, सुमन, सुलभ, सुशील, सुअवसर, स्वागत, स्व्लप, सूक्ति
सम्अच्छी तरह/पूर्ण शुद्धसंकल्प, संचय, सन्तोष, संगठन, संचार, संलग्न, संयोग, संहार, संशय, संरक्षा,
अन्नहीं/बुराअनन्त, अनादि, अनेक, अनाहूत, अनुपयोगी, कनागत, अनिष्ट, अनीह, अनुपयुक्त, अनुपम, अनुचित, अनन्य
नहीं,अभावअनादि, अपरिचित, अमत्र्य, अस्थिर, अक्षम्य, अक्षम, अजर, अदृष्ट, अज्ञान, अभाव, अगम्य, अदम्य, अमंद, अधर्म, अजात, अकाल, अकारण, अथाह, अलभ्य, अबाध, अटल, अलौकिक, अगोचरी, अव्यय, अवैतनिक
अन्अभाव,रहितअनादि, अनंत, अनेक, अनधिकार, अनुचित, अनिच्छा, अनायास, अनावश्यक, अनुदार, अनंग, अनंतर, अनन्य, अनासक्ति, अनापत्ति, अनपेक्षित, अनभिज्ञ, अनभ्यस्त, अनर्थ, अनस्तित्व, अनिच्छुक, अनुपम, अनुत्पादक, अनन्य, अनुर्वर
अध:नीचेअध:पतन, अधोगति, अधोमुख, अधोवस्त्र, अधोभाग, अधोगति, अधोहस्ताक्षरकर्ता
अंतर्भीतर,मध्यअंत:पुर, अंत:करण, अंतर्यामी, अंतर्गत, अंतर्मन, अंतर्देशीय, अंतर्मूर्त, अंतरात्मा, अंतर्घात, अंतर्ज्ञान, अंतरिक्ष, अंतर्धान, अंतर्राष्ट्रीय, अंतर्दशा, अंतर्निहित, अंतर्यामी, अंतर्दृष्टि
अंतरके बीचअंतरराष्ट्रीय, अंतरराज्यीय, अंतर्जातीय
अमापासअमात्य, अमावस्या
अलम्सजा हुआअलंकार,अलंकृत, अलंकृति, अलंकरण
आवि:प्रकट रूप मेंआविष्कार, आविष्कृत, आविर्भाव, आविर्भूत
कानीच,बुराकापुरुष, कातर, कापर, काजल
कुबुराकुपुत्र, कुकर्म, कुरूप, कुतर्क, कुपात्र, कुफ्र, कुमति, कुदृष्टि, कुरंग
चिरदेर का, अधिक, दीर्घचिरकाल, चिरजीवी, चिरस्थाई, चिरपरिचित, चिरप्रतीक्षित, चिरायु, चिरनवीन, चिरयौवन
तिर:तुच्छतिरस्कार, तिरोधान, तिरोहित
अभावनपुंसक, नास्तिक, नग, नेति
परदूसरापरोपकार, पराधीन
परादूर, उल्टे, कम सेपराजय, पराकाष्ठा, पराक्रम, पराभव, परामर्श, परावर्तन, परास्त, पराविद्या
पुनर्फिरपुनर्जन्म, पुनरपि, पुनरुद्धार, पुनरवलोकन, पुनरावृत्ति, पुनरुत्थान, पुनश्च, पुनरुक्ति, पुनरागमन, पुनर्वास,
पुर:सामने, आगेपुरस्कार, पुरश्चरण, पुरश्चर्या, पुरोहित, पुरस्सर, पुरोगामी, पुरोधा
पूर्वपहलापूर्वनिश्चित, पूर्वाद्र्ध, पूर्वपक्ष
पुराप्राचीनपुरातत्व, पुरातन, पुरावृत, पुरावशेष, पुरावतंश,पुराण
प्राक्पहले काप्राक्कथन, प्राक्तन, प्राक्कलन, प्रागैतिहासिक
बहुबहुतबहुमूल्य, बहुवचन, बहुमत
बहि:बाहरबहिष्कार, बहिष्कृत, बहिर्ज्ञान, बहिर्क्षेत्र, बहिर्नाद, बहिर्गमन, बहिर्मुखी, बहिरंग
साथसफल, सरस, संजीव, सोदाहरण, संकाय, सजातीय, सगुण, सस्वर, सपत्नीक, सादर, सशक्त, साकार, सावधान, साष्टांग, सोलास, सोत्साह
सत्अच्छासज्जन, सद्भावना, सत्संग, सद्गति, सत्कार, सद्धर्म, सदाचार
सहसाथसहगान, सहयात्री, सहचर, सहकर्मी, सहायक, सहोदर, सहानुभूति, सहचिंतन
साक्षात्सामनेसाक्षात्कार, साक्षाद्धर्म
सम्साथ, अत्यंत, समानसमादर, संभाषण, समान, समाधान, समाज, समाचार, समागम, समापन, समारोह, समारोह, समाविष्ट, समास, समाख्या
स्वअपनास्वदेश, स्वराज्य, स्वतंत्र, स्वभाव, स्वधर्म, स्वरूप, स्वाचालित, स्वरचित, स्वगत, स्वाधीन

हिंदी उपसर्ग

उपसर्गअर्थउदाहरण
नहींअजान, अलग, अकाज, अछूता, अपच, अचेत, अथाह, अबेर, अटल
अनबिनाअनपढ़, अनदेखा, अनसुना, अनबन, अनमोल, अनगिनत, अहित, अनुभव, अनमेल, अनपढ़, अनहोनी, अनबूझ, अनखाया
अधआधाअधमरा, अधकचरा, अधजला, अधपका, अधसीजा, अगला, अधखिला, अधनंगा
ऊंचाउचक्का, उजड़ना, उखाड़ना, उलांघना, उतावला, उतारना, उछलना
उनएक कमउन्नीस, उनतीस, उन्तालीस, उनचास, उनसठ, उनहत्तर, उन्नासी
बुरा, नीचेऔगुण, औसर, औतार, औघड़, औघट
क,कुबुरा,कठिनकपूत, कुटेव, कुढंग, कुठौर
दुसंस्कृत के दर् कम, खराब का तद्भवदुबला, दुकाल
निसं. निर् का तद्भव रूपनिकम्मा, निहत्था, निधड़क, निडर, निपूता, निठल्ला, निपट
स,सुअच्छासपूत, सुघड़, सुडौल, सुजान
बिननिषेध या अभावबिनखाया, बिनब्याहा, बिनबोया, बिनजाया, बिनजाने, बिनमाने, बिनबुलाया, बिनदेखा, बिनसोचा
भरपूरा या भरा हुआभरपेट, भरकम, भरपूर, भरसक, भरपाई, भरमार
चौचारचौराहा, चौमासा, चौकोर, चौपड़, चौरस्ता, चौरंगी, चौमुखा, चौपाइयां, चौखट, चौतरफा
तितीनतिराहा, तिकोना, छिपाई, तिरंगा, तिगुना, तिमाही
दुदोदुरंगा, दुलत्ती, दुभाषिया, दुधारू, दुभांत, दुनाली, दुगुना, दुमुंहा, दुर्गा, दुमट
परदूसरापरकारज, परसुख, परदुख, परहित, परदादी, परपोता
सहितसहित, सचेत, सबेरा, सजग, सहेली

विदेशी उपसर्ग

कई बार हिंदी भाषा में अन्य भाषाओ के शब्द भी प्रयुक्त होते है उनके उपसर्गो को हिंदी में विदेशी उपसर्ग बोलते है 

अलनिश्चितअलविदा, अलबेला, अलमस्त से अलबत्ता, अलहदा
ऐनठीकऐनवक्त, ऐनमौका, ऐनइनायत, ऐनआदमी
कमन्यून, हीनताबोधककम-अक्ल, कमजोर, कमबख्त, कमसिन, कमउम्र
खुशअच्छाखुशकिस्मत, खुशबू, खुशमिज़ाज़, खुशहाल, खुशनुमा, खुशदिल, खुशखबरी
गैररहित, भिन्नगैर-जरूरी, गैर-हाजिर, गैर-सरकारी, गैर-कौम, गैर-मुमकिन, गैर-जवाबी, गैर-कानूनी, गैर-जिम्मेदार
फ़ीप्रत्येकफ़ी आदमी, फ़ी मैदान
साथ, लिए, परबमुश्किल, बदस्तूर, बदौलत, बकौल, बख़बी, बखुद, बजाय, बतौर, बदस्त, बनिस्बत, बशर्ते, बहैसियत
बदबुरा,परबदकिस्मत, बदनाम, बदमिज़ाज़, बदफैली, बदचलन, बदतमीजी, बदबू, बदकार, बदज़ात, बदज़बान, बदनसीब, बदहवास, बदसूरत, बदमाश, बदहजमी
बरऊपर, पर, बाहरबरबाद, बरदाश्त, बरक़रार, बर्खास्त, बरवक्त
बाअनुसार, साथ मेंबाकायदा, बाइज्ज़त, बाजावता, बामुलाहज़ा, बाअदब
बिल्से, साथ, लिए, द्वाराबिल्कुल, बिल्फर्ज़, बिलइरादा, बिल्मुक्ता
बिलाबिनाबिलावज़ह, बिलाशर्त, बिलाशक़, बिलाकानून
बेअभाव, रहितबेखटके, बेचारा, बेअक्ल, बेईमान, बेहद, बेहिसाब, बेसमझ, बेजान, बेचैन, बेदर्द, बेहया, बेइज्जत, बेमानी, बेवक्त, बेधड़क, बेडौल, बेलाग, बेरहम, बेवजह, बेवकूफ़, बेसहारा, बेवफ़ा, बेशक
लाबिनालाइलाज, लाचार, लापता, लाजवाब, लावारिस, लापरवाह, लाज़िम
दरमेंदरहकीक़त, दरअसल, दरकार, दरमियान, दरबार, दरवेश, दरकिनार
नाबिनानालायक, नापसंद, नाकाम, नाकारा, नाचीज़, नामुमकिन, नादान, नाबालिग़, नामुराद, नाखुश, नापाक, नाइंसाफ
सरअच्छासरकार, सरनाम, सरपंच, सरदार
हमसमानहमसफर, हमराह, हमदम, हमवतन, हमदर्द, हमजोली
हरप्रत्येकहरवक्त, हररोज, हरेक, हरदम, हरतरफ, हरघड़ी, हरबार, हरकोई

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *