हिंदी व्याकरण, पत्र लेखन

पीने के पानी की व्यवस्था-हेतु प्रधानाध्यापक को पत्र | hindi application writing

सेवा में,

श्रीमान् प्रधानाध्यापक महोदय,

राजकीय उच्च प्राथमिक विद्यालय,

भरतपुर।

महोदय,

विनम्र निवेदन है कि लगभग दो सप्ताह से विद्यालय में पीने का पानी नहीं मिल रहा। जलचर के सभी घड़े फूटे हुए हैं, नल भी टूटा हुआ है। पानी-संग्रह की अन्य कोई व्यवस्था नहीं है। इस कारण सभी छात्रों को पीने के पानी के क्रम में परेशानी हो रही है।

अत: प्रार्थना है कि कृपया विघालय में पीने के पानी की उचित व्यवस्था करवाने का कष्ट करें तथा जलघर में एक चपरासिन की नियुक्ति कर साफ-ताजा पानी भरवाने की व्यवस्था करें।

प्रार्थी

किसन तथा अन्य सभी छात्र

कक्षा 7

दिनांक 6-9-2022

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *